Thursday, 16 August 2007

श्री युनूसजी,
आपके इस रेडियोवानीने मूझे हैदराबाद स्थित श्री सागरचंद नहार कि बहुमूल्य मैत्री प्रदान की है
आपका शुभ-चिन्तक,
पियुष महेता- सूरत -३९५००१.